0

Pyar Bhara Zindagi Ka Khwab Shayari

Pyar Bhara Zindagi Ka Khwab Shayari Image

उनकी नशीली आँखों की गहरायी में इस तरह डूब जाना हैं,
कैसे बताये की दिल ये मेरा उनका कितना बड़ा दीवाना हैं,
उनकी मासूमियत का मंज़र मुझपे कुछ इस कदर छा गया की
उसके चेहरे को आँखों में बसाकर जिंदगी का ख्वाब सजाना हैं !

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *