Haal E Dil Ki Shero Shayari on Ikraar E Mohabbat

0
447

Haal E Dil Ki Shero Shayari on Ikraar E Mohabbat

उनकी खामोश नज़रो ने उनका हाल ए दिल बयां कर दिया,
रुके हुए अल्फाज़ो को हमने उनकी मुस्कराहट में पड़ लिया
शरमा गए वो इस कदर अपनी इकरार ए मोहब्बत में,
लगकर सीने से मेरे उन्होंने अपना जहां मेरे नाम कर दिया !!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here